Thursday, October 22News That Matters
Shadow

कोरोना पीड़ित पूर्व सांसद सुरेंद्र प्रकाश गोयल का निधन

Surendra Prakash Goel
शेयर करें !

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। अब कोरोना पीड़ित गाजियाबाद के पूर्व सांसद और कांग्रेस के वरिष्ट नेताओं में शुमार सुरेंद्र प्रकाश गोयल (Surendra Prakash Goel) का शुक्रवार को निधन हो गया। उनकी रिपोर्ट 30 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव आई थी। इसके बाद वह पिछले पंद्रह दिनों से दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में भर्ती थे। वह पिछले कई दिन से गंगाराम अस्पताल में वेंटिलेटर पर थे।

हाल ही में कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी के निधन के बाद अब कांग्रेस के कद्दावर नेता के निधन से कांग्रेस ओ झटका लगा है। सुरेंद्र गोयल सिटी बोर्ड के चेयरमैन भी रहे, सांसद और विधायक भी रहे।

Surendra Prakash Goel: पार्षद से लेकर सांसद तक का किया सफर

उनका (Surendra Prakash Goel) जन्म 1 जनवरी 1946, को बेतपुरा जिला गौतमबुद्ध नगर व कर्मभूमि सराय नगर अली जिला गाजियाबाद रही। सुरेंद्र प्रकाश गोयल ने पार्षद से लेकर सांसद बनने तक का राजनीतिक क्षेत्र में लंबा सफर तय किया था।  कांग्रेस की राजनीति करते हुए पहली बार वह 1972 में नगर पालिका गाजियाबाद के सदस्य के रुप में चुने गए थे। 1973 में नगर पालिका के चेयरमैन बने और फिर 1989 में भी चेयरमैन बने। 2002 में शहर से विधायक चुने गए। साल 2004 में पहली बार कांग्रेंस से सांसद चुने गए।

Surendra Prakash Goel: ‘चाचा’ नाम से जाने जाते थे

75 वर्षीय सुरेंद्र प्रकाश गोयल (Surendra Prakash Goel) का शहर के हर दल के नेता उन्हें ‘चाचा’ के नाम से पुकारकर सम्मान देते थे। कई बार कांग्रेस के भीतर ही टिकट को लकर खूब उठापठक हुई लेकिन एक ही झटके में वह टिकट लेकर नामांकन करने पहुंच जाते थे। कांग्रेस के उच्च नेताओं से उनकी पकड़ का कोई अंतिम क्षणों तक अंदाजा नहीं लगा पाता था। कई बार मंच से कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यह बोला कि चाचा कहां हैं।

लाइव उत्तराखंड से यूट्यूब पर जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *