Tuesday, October 20News That Matters
Shadow

निष्कासित विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की भाजपा में वापसी, जाने क्या बोले..

शेयर करें !

देहरादून: भाजपा से अनुशासनहीनता के कारण निष्कासित खानपुर विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन की पार्टी में वापसी हो गई है। पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित हुए विधायक चैंपियन की 13 महीने बाद ही वापसी हो गई है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि, निष्कासन के दौरान उनकी एक भी शिकायत नहीं मिली है। उनको एक मौका दिया जा रहा है। वहीं विधायक देशराज कर्णवाल को भी माफ कर दिया है।

दोनों पर लगे आरोपों पर रविवार को चैंपियन और कर्णवाल का पक्ष सुनने के बाद प्रदेश अध्यक्ष ने अपना यह फैसला सुनाया है।  प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि, निष्कासन के दौरान वह मर्यादा में रहे। उन्होंने लिखित में माफी मांगी है।

चैंपियन में माँगी माफी, बोले मेरे अन्दर पहाड़ का खून

विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने माफी मांगते हुए कहा कि, मुझसे कई गलतियां हुईं। लेकिन मैं पार्टी का सेवक हूँ,  मेरी पत्नी भी जिला पंचायत सदस्य हैं। वायरल वीडियो में मुझे अपने प्रदेश के लिए अपशब्द कहते दिखाया गया, मैंने तभी इसके लिए खेद व्यक्त किया था। मैं देवभूमी से माफी मांगता हूँ, देवभूमी अपने बच्चों को माफ़ करती रही है। इस दौरान वह माफी मांगने के साथ ही रिश्तों की दुहाई तक देने लगे। उन्होंने कहा कि, मेरी दादी लैंसडाउन की थी, मेरे अन्दर पहाड़ का खून है, तो मैं कैसे गलत बोल सकता हूँ।

विवादों के कारण पार्टी ने किया था निष्कासित

बता दें कि, विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन अपने बयानों और कारनामों को लेकर विवादों में रहे थे। उनके वीडियो में तमंचे लहराने के साथ ही कई तरह के विवादित वीडियो सामने आते रहे थे। साथ ही झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल के साथ उनका विवाद खासी चर्चाओं में रहा। इसके अलावा दिल्ली स्थित उत्तराखंड भवन में भी उन्होंने कुछ लोगों से भद्रता की थी। जिसके बाद भाजपा ने चैंपियन को नोटिस भेज पार्टी से निष्कासित कर दिया था।

लाइव उत्तराखंड से यूट्यूब पर जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *