Tuesday, October 20News That Matters
Shadow

PLANT-A-THON 2020 का सफल आयोजन, Plantation के 5 हरित वर्ष

PLANT-A-THON
शेयर करें !

Live Uttarakhand Desk

देहरादून || PLANT-A-THON 2020 थीम पर आज पौधारोपण का 5 वां आयोजन किया गया. वृक्षारोपण के इस सफल आयोजन में Joy and Specs के साथ वांडरर्स बुलेटर्स रहे. आज के वृक्षारोपण के सफल बनाने में  WIC के एम० डी० सचिन उपाध्याय ने अहम भूमिका रही.

“PLANT-A-THON” का आयोजन कात बंगले में संपन्न

PLANT A THON

विगत 4 वर्षों से लगातार चले आरहे वृक्षारोपण 5 वां वर्ष भी शानदार रहा। वार्षिक वृक्षारोपण अभियान “PLANT-A-THON 2020″ का आयोजन कात बंगले किया।

WIC द्वारा आज के वृक्षारोपण के लिए जमीन भी दी गई जिस पर 400 से अधिक वृक्ष लगाये गये। इस पूरे कार्यक्रम में WIC के MD सचिन उपाध्याय भी साथ रहे और समस्त टीम सदस्यों का उत्साह वर्धन किया।

PLANT A THON

“PLANT-A-THON 2020″ वृक्षारोपण की नई अवधारणा – सचिन उपाध्याय (WIC)

“PLANT-A-THON 2020″ को वर्चुअल वृक्षारोपण द्वारा शुरू किया गया। जिसने इसे और अधिक रोचक और अनूठा बना दिया था। टीम को उनके आभासी पंजीकरण प्राप्त होने के बाद लगभग 5500प्लांट वितरित किए गए।

आज पौधारोपण कुम्भ में यूँ तो कई संगठनों ने हिस्सा लिया लेकिन सामाजिक भेद (social distency)  के मानदंडों का सम्मान करते हुए, इस वर्ष के पौधारोपण कार्यक्रम में हर संगठन के एक या दो सदस्य ही प्रतिनिधित्व करने के लिए आये थे। मात्र 30 प्रकृति प्रेमी सेवकों ने ही पूरे कार्यक्रम को सफल अंजाम तक पहुँचाया।

PLANT A THON

सामाजिक भेद के मानदंड हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता- जय शर्मा

कोरोना काल में अपनी समाज व संविधान के प्रति जिम्मेदारी निभाते हुए पूरी तरह से सोशल दूरी का ध्यान रखा गया ऐसा कहना है joy & specs के संस्थापक जय शर्मा का, जय ने कहा कि ““सामाजिक भेद के मानदंड हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। हम इसे किसी भी तरह से नजरअंदाज नहीं करेंगे।”

वृक्षारोप की हर 15 दिन में होती है देखभाल

संस्था का कहना है कि वो हर पौधे कि देखभाल में भी पूरा ध्यान देते हैं और हर 15 दिनों में एक बार हर वृक्ष की पोषण जाँच होती है. इस बार का वृक्षों रेस कोर्स, प्रेम नगर, सेलाकुई, रायपुर, जॉली ग्रांड, गढ़ी कैंट में किया गया जिनमे कुल 5500 वृक्ष लगाये गये हैं.

 

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *