agriculture-firmNation 

जहां चाह वहां राह: 11 दिव्यांगों ने मिलकर बनाई कृषि कंपनी जैविक तकनीक से खेती

उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले में कुछ दिव्यांगों ने की शानदार मिसाल पेश की है। जिले के 11 दिव्यांगों ने साथ मिलकर अंश लघु कृषक उत्पादक कंपनी लिमिटेड की स्थापना की। इसमें अपने जैसे 450 किसानों को जोड़ा। जैविक कृषि को आधार बना इन्होंने कृषि उत्पाद तैयार करने शुरू कर दिए। इन उत्पादों को बाजार में उतारने के लिए दिव्यांग सुलभ खाद्य प्रसंस्करण केंद्र शुरू किया। जहां से जैविक कृषि उत्पादों, आटा, मसाले, चावल आदि को सुव्यवस्थित पैकेजिंग के बाद बाजार में उतार दिया जाता है।

बाजार में बनाई पैठ :

कमाल की बात यह है कि इनके द्वारा उत्पादित वस्तुओं ने बाजार में अच्छी पैठ बना ली है। इसका कारण यह है कि इनके सभी उत्पाद शतप्रतिशत जैविक कृषि द्वारा तैयार उत्पाद होते हैं। अंश लघु कृषक उत्पादक कंपनी लिमिटेड के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में दिव्यांग पुरुष और महिलाएं, दोनों ही शामिल हैं। कंपनी से जुड़े सभी दिव्यांग किसानों की खासियत यही है कि ये सभी जैविक विधि से खेती करते हैं।

यह तो बस शुरुआत है :

अंश लघु कृषक उत्पादक कंपनी बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अभिजीत, आनंद कुमार, नम्रता, प्रमोद कुमार व अमरजीत ने बताया कि दिव्यांगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए ही यह अभिनव पहल की गई है। धीरे-धीरे कंपनी का विस्तार कर आस-पास के अन्य दिव्यांग किसानों को भी इसमें जोड़ा जाएगा। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में भी दिव्यांग किसानों द्वारा बेहतर कार्य किया जा रहा है। उनका भी सहयोग लिया जाएगा।

Related posts

Leave a Comment