लद्दाख में लव जिहाद ? बौद्धों ने मुस्लिमो को लेह छोड़ने का फरमान सुनाया

लद्दाख-जम्‍मू-कश्‍मीर राज्य के लद्दाख में मुस्लिम लड़के और बौद्ध लड़की की मोहब्‍बत’ को लेकर तनाव है.बौद्ध समुदाय का कहना है कि यहाँ पर मुस्लिम समुदाय के लड़के उनके धर्म की लडकियों को प्रेम जाल में फसा रहे है.बौद्ध समुदाय का कहना है यहाँ प्रेम विवाह नहीं बल्कि लव जिहाद चल रहा है.

लद्दाख में मुस्‍लिम युवक सईद मुर्तजा आगा ने बुद्धिस्‍ट लड़की से शादी कर ली है,शादी के बाद लड़की ने अपना मज़हब बदल कर इस्लाम धर्म अपना लिया है इसी बात को लेकर दोनों समुदाय में तनाव है.मुस्लिम लड़के से शादी करने वाली बुद्धिस्ट लड़की मेडिकल की स्टूडेंट है उसने अब शादी के बाद अपना नाम शिफा रख लिया है जबकि लड़का सईद मुर्तजा आगा पेशे से इंजिनियर है.दोनों शादी के बाद जम्मू में रह रहे है.

इस मामले के बाद लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन ने लेह में आसपास के सभी बौद्धों को एकत्र करके विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया,लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन ने इलाके के मुस्लिमो को लद्दाख 7 दिन के भीतर छोड़ने का फरमान सुना दिया है.

लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन ने मुस्लिमो को चेतावनी देते हुए लड़की को माता-पिता को सौपने को कहा है,इस पर्दर्शन के बाद मुस्लिम और बौद्धों में छोटी मोती हिंसा की घटनाएं भी हुयी है.

बता दे लेह के आसपास के इलाके में बौद्ध समुदाय की आबादी अधिक है वही पिछले कुछ सालो से मुस्लिमो का इस इलाके में तेज़ी से पलायन हुआ है.

लदाख में बौद्ध बनाम मुस्लिम की फांक पड़ चुकी है, बौद्धों में भयंकर असुरक्षा है कि उनकी आबादी कम हो रही है और कारगिल के मुसलमान उनके रोजगार हथिया कर संख्या और संसाधन में बढ़ते जा रहे हैं.

पिछले कुछ दिनों से मुस्लिम लड़के और बौद्ध लड़की में प्रेम विवाह की कई घटनाये हुए है जिसको बौद्ध समुदाय लव जिहाद बता रहा है,अब इस मामले में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को दखल देने की अपील की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *