शिक्षिका ने दो छात्राओं को बेरहमी से पीटा, एक का हाथ टूटा

उत्तर प्रदेश के संभल जिले के कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में शिक्षिका का अमानवीय चेहरा समाने आया है। जूते न पहनकर आने की बिनाह पर शिक्षिका ने आपा खो दिया। छात्रा को लोहे के पाइप से पीट पीटकर उसका हाथ तोड़ डाला।

वहीं दूसरी छात्रा को भी पीटकर घायल कर दिया। छात्रओं को उपचार के लिए निजी चिकित्सक के यहां भर्ती कराया गया है। वहीं बीएसए ने पूरे मामले पर जांच बैठायी है। बहजोई के यादव कालौनी निवासी महेशचन्द्र शर्मा की पुत्री खुशबू कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में कक्षा सात व गांव कूबरी राम निवासी ऋषीपाल सिंह की पुत्री रतनेश कक्षा आठ की छात्रा हैं।

खुशबू व रतनेश विद्यालय की पहली मंजिल पर खेल रहीं थी। वह खेलते खेलते नीचे आ गईं तो शिक्षिका विजय लक्ष्मी ने जूते न पहने के बारे में पूछा तो छात्राओं ने जूते नहीं मिलने की बात कही। आरोप है कि इस पर शिक्षिका भड़क गई और उसने अपना आपा खो दिया। शिक्षिका ने पास में रखे लोहे के पाइप से खुशबू व रतनेश को पीटना शुरू कर दिया।

शिक्षिका तब तक खुशबू व रतनेश को पीटती रही जब तक कि वह घायल होकर गिर नहीं गई। अन्य शिक्षिकाओें ने आकर दोनों छात्राओं को बचाया। छात्राओं के दर्द से कराहने पर निजी चिकित्सक के यहां उपचार के लिए भर्ती कराया गया। जहां खुशबू का हाथ टूटा पाया गया। वहीं दूसरी छात्र रतनेश चोटिल हुई है। शिक्षिका की बेरहमी की जानकारी मिलने पर अभिभावक पहुंचे और शिक्षिका पर कार्रवाई की मांग उठाई। बीएसए डा. सत्यनारायण ने पूरे मामले की जांच करने के लिए दो सदस्यीय कमेटी बनाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *