Thursday, October 22News That Matters
Shadow

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश महामंत्री यूकेडी में शामिल, नए सिरे से होगा कार्यकारिणी का गठन

ukd
शेयर करें !

देहरादून: आज कांग्रेस के पूर्व प्रदेश महामंत्री भानु प्रकाश जोशी उत्तराखंड क्रांति दल (ukd) में शामिल हो गये गए हैं। इस अवसर पर भानु प्रकाश जोशी को अल्मोड़ा और सोमेश्वर विधासनसभाओ का प्रभार भी सौंपा गया है। इसके आलावा दिनेश नेगी ने भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इसके साथ ही पार्टी (ukd) अध्यक्ष दिवाकर भट्ट ने समस्त कार्यकारिणी को भी भंग कर दिया है। एक महीने के अंतर्गत नए सिरे से गठन किया जायेगा। यह भी निर्णय लिया गया है कि, समस्त कार्यकारिणी भंग होने के साथ जनपदों के जिलाध्यक्ष और महानगर के अध्यक्ष अपने जिले व महानगर एवं शहरों के प्रभारी रहेंगे।

राज्य सरकार पूरी तरह फेल: UKD

पार्टी (ukd) अध्यक्ष दिवाकर भट्ट ने कहा कि, राज्य सरकार कोरोना काल मे फेल हो चुकी है। कोरोना का प्रसार राज्य सरकार का निकम्मापन रहा है। वहीं दल (ukd) के संरक्षक काशी सिंह ऐरी ने कहा कि, कोरोना काल के दौरान उत्तराखंड सरकार की बहुत सी विफलतायें रही हैं। सरकार कोरोना को रोकने के में असफल रही है। 30 जनवरी को पहला केस भारत मे आया लेकिन, सरकार ने शुरुआती कदम नही उठाया। बाहर से फ्लाइट आती रही। वह मध्यप्रदेश की सरकार बनाने में व्यस्त रही।

उन्होंने कहा कि, स्वास्थ्य विभाग, पुलिस आदि विभाग पर सरकार के दिशानिर्देश व पकड़ नही रही। प्रवासियों को रोजगार की बात सरकार कर तो रही है, लेकिन धरातल पर अभी तक नही उतरा। वहीं वापस लौटे प्रवासियों को अगर सरकार रोजगार मुहैया नही करवा पायी और प्रवासी वापस चले गये तो यह सरकार की बड़ी नाकामी कही जाएगी। उन्होंने पुलिस व स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को कोरोना बचाव के लिये पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध करवाने की भी मांग की।

भू-कानून को ख़त्म करना राज्य के अस्तित्व के लिये खतरा: पूर्व विधायक

वहीं पूर्व विधायक पुष्पेश त्रिपाठी ने कहा कि, सरकार के मुखिया रिवर्स पलायन के लिये ढकोसला कर रही है। गैरसैंण में जमीन लेकर मुख्यमंत्री ने बाहर के लोगों को न्योता दे दिया। उक्रांद की मांग है कि, गैरसैण को पूर्णकालिक राजधानी घोषित कर गैरसैण क्षेत्र की जमीनों की खरीद-फरोख्त पर प्रभावी कानून बनाकर रोक लगाए। पूर्व में हमारे दबाव पर भू-कानून लागू किया था, जिसे त्रिवेंद्र की सरकार खत्म कर चुकी है। जो राज्य के अस्तित्व के लिये खतरा है।

उन्होंने कहा कि, जिला विकास प्राधिकरण विनाशकारी एक्ट लागू कर पहाड़ के साथ धोखा किया है। सरकार जोला विकास प्राधिकरण को भंग करें। रिवर्स पलायन अगर मुख्यमंत्री को करना है तो पहले वह अपने गांव में जाएं।

प्रेस वार्ता में बीडी रतूड़ी, डीडी जोशी, अनुसूया प्रसाद उनियाल, कुंदन बिष्ट, रणजीत गडाकोटी, शिवराज बनौला, बहादुर सिंह रावत, सुनील ध्यानी, लताफत हुसैन, विजय बौड़ाई, प्रताप कुँवर, धर्मेंद्र कठैत, राजेन्द्र बिष्ट, राजेश्वरी रावत, प्रताप कुँवर, समीर मुंडेपी, गिरीश शाह, दिनेश जोशी, दीवान, गिरीश नाथ गोस्वामी आदि मौजूद रहे।

लाइव उत्तराखंड से यूट्यूब पर जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *