Saturday, October 24News That Matters
Shadow

उत्तराखंड के चार जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, रेड अलर्ट जारी, तीन जिलों में ऑरेंज अलर्ट

मौसम
शेयर करें !

देहरादून: उत्तराखंड में बारिश लोगों की मुसीबत और बढा सकती है। मौसम विभाग ने प्रदेश के चार जिलों में सोमवार को भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। साथ ही देहरादून सहित तीन अन्य जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। वहीं अन्य क्षेत्रों में भी हल्की से मध्यम बारिश जारी रहने की संभावना जताई है।

मौसम विभाग द्वारा चार जिलों में रेड अलर्ट जारी

मौसम विभाग के अनुसार, सोमवार को कुमाऊँ मंडल के तीन जिलों नैनीताल, बागेश्वर और सीमान्त जिला पिथौरागढ में और गढ़वाल मंडल के सीमान्त जिले चमोली में अत्यधिक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। इसको देखते हुए संबंधित जिला प्रशासन को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। वहीं मौसम को देखते हुए लोगों से अपील की गई है कि, फिलहाल पहाड़ का सफर करने से बचें।

बता दें कि, बारिश से अब तक पिथौरागढ़ और चमोली जिले को सबसे अधिक नुकसान हुआ है। इन जिलों में कई घर, गौशाला दफन हो चुके हैं। साथ ही कई लोग और मवेशियों की जान जा चुकी है। साथ ही कई सम्पर्क मार्ग भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। सड़क मार्ग के चलते जहाँ बद्रीनाथ-केदारनाथ यात्रा बार-बार बाधित हो रही है, तो वहीं सीमान्त क्षेत्रों के पुलों के क्षतिग्रस्त होने से चीन सीमा से भी संपर्क टूट गया था। इसके चलते सैनिकों को समान पहुंचाने में भी कई परेशानियों का सामना करना पड़ा।

तीन जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी

वहीं देहरादून, टिहरी और पौड़ी जिलों में भी अगले 24 घंटे में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। स्थानीय प्रशासन को सतर्क रहने को कहा गया है। लगातार हो रही बारिश से जहां पहाड़ों में भूस्खलन हो रहा है तो वहीं मैदानी क्षेत्रों में भी जल भराव की समस्या से जूझना पड रहा है।

अधिकारियों को मोबाइल फोन बंद न करने और तैनाती की जगह न छोड़ने का आदेश

मौसम विभाग के अलर्ट को देखते हुए राज्य आपदा प्रबंधन केंद्र की ओर से जिलाधिकारियों को पत्र जारी किया गया है। इसके तहत 17 और 18 अगस्त को पिथौरागढ़, बागेश्वर, चमोली और नैनीताल जिले में अत्यधिक बारिश सम्भावना के चलते आईआरएस (इंसीडेंट रिस्पांस सिस्टम) से संबंधित सभी अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है।

रेड अलर्ट और ओरेंज अलर्ट को देखते हुए किसी भी स्थिति में अधिकारियों के मोबाइल फोन बंद न करने को कहा गया है। साथ ही ग्राम पंचायत और राजस्व विभाग के फील्ड कर्मियों को तैनाती की जगह न छोड़ने को कहा गया है। जिससे किसी भी संकट की स्थिति से तुरंत निपटा जा सके।

लाइव उत्तराखंड से यूट्यूब पर जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *