Wednesday, October 28News That Matters
Shadow

उत्तराखंड: जवान कुंदन राम को सैन्य सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई

कुंदन राम
शेयर करें !

अल्मोड़ा: उत्तराखंड के लिए एक और बुरी खबर है।  देश की रक्षा करते हुए उत्तराखंड के एक और लाल ने शहादत दी है। अल्मोड़ा के ग्राम सिरोली निवासी बीएसएफ जवान कुंदन राम का बबलेश्वर श्मशानघाट पर राजकीय सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। दिल्ली से आए बीएसएफ के जवानों ने उन्हें अंतिम सलामी दी। इस दौरान उनके पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

जवान कुंदन राम जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में तैनात थे। सेना के वाहन से रविवार को सुबह करीब चार बजे चौखुटिया होते हुए सुबह सात बजे उनका पार्थिव शरीर पैत्रिक गांव सिरोली ले जाया गया। शहीद पति के पार्थिव शरीर को देखते ही पत्नी सुनीता और बेटे हरीश सहित सभी परिजन बदहवास हो गए।

शहीद के सिरोली गांव से भारत माता की जय, कुंदन अमर रहे और वंदे मातरम की गूंज के साथ अंतिम यात्रा शुरू हुई। इसके बाद श्मशानघाट पर उनके बेटे हरीश ने शहीद पिता की चिता को मुखाग्नि दी। वहीं दिल्ली से आए बीएसएफ के जवानों ने उन्हें अंतिम सलामी दी। साथ ही शहीद के बेटे को हरीश को तिरंगा सौंपा।

शहीद की 26 साल की नौकरी पूरी हो चुकी थी। इस बीच उनकी पदोन्नित भी होनी थी। फिलहाल परिजनों को सहायता के रूप में पैंतीस हजार रुपये की धनराशि दी गई है। वहीं अन्य आर्थिक सहायता के लिए आगे की कागजी औपचारिकताएं की जा रही है।

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *