Monday, August 10News That Matters
Shadow

Kishor की जनसंवाद यात्रा, टिहरी विस्थापितों व प्रभावित क्षेत्रों को 300 यूनिट बिजली और पानी निशुल्क दे सरकार

Kishor_Jansamwad
शेयर करें !

Live Uttarakhand Desk ||

Kishor Upadhyay ने टिहरी विधानसभा क्षेत्र के विकासखंड जाखणीधार के अंतर्गत टीपरी में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी जाखणीधार के द्वारा आयोजित जन संवाद कार्यक्रम में पहुँच कर क्षेत्रवासियों से संवाद स्थापित किया। कार्यक्रम में क्षेत्र के नौजवानों ने बढ़ चढ़कर भागीदारी की, कार्यक्रम के दौरान कोविड-19 कोरोनावायरस से प्रभावित हुए रोजगार को लेकर चिंता युवाओं और स्थानीय कामगारों में साफ़ तौर पर दिखी।

 Kishor के सामने दिल खोल कर की अपनी पीड़ा बयान

जनसंवाद में रोजगार पर गहराया संकट बातचीत का मुख्य विषय रहा। बेरोजगारी का दंश झेल रहे युवा और स्थानीय कामगारों के सामने जीवन निर्वाह एक बढ़ी चुनोती बन चुकी है। परिवार का भरण पोषण की चिंता में जी रहे लोगो सरकार की उपेक्षा से खासे नाराज़ भी दिखे।

सरकारों ने हमारे हक हकूकों पर डाका डाला है, होश में आये सरकार :- Kishor

किशोर उपाध्याय ने जन संवाद कार्यक्रम में अपने संबोधन में कहा कि “आज हर स्थानीय व्यक्ति बेरोजगारी की मार झेल रहा है राज्य सरकार के द्वारा इस भयावह बीमारी में बेरोजगार हुए नौजवानों व कामगारों के लिए कोई ठोस रोड मैप नहीं है। बेरोजगारी की बढती भयावह स्तिथि अत्यंत चिंता का विषय है।

उन्होंने माना कि टिहरी के लोगों ने राष्ट्र के लिए अपनी मातृभूमि को कुर्बान किया है। अपने संबोधन में देश के निर्माण के साथ-साथ जल और जंगलों की रक्षा कर रहे हैं टिहरी वसियों की उपेक्षा कर रही TSR सरकार और केंद्र सरकार पर किशोर जम कर बरसे। किशोर ने कहा कि वर्तमान सरकार ने प्रत्यक्ष अथवा परोक्ष रूप से टिहरी को कोई फायदा नहीं दिया उलटे राज्य सरकार ने हमारे अधिकारों पर डाका डालने का काम किया है।

Kishor Upadhyay

किशोर ने जनसंवाद में उठाई सरकार से मांग

किशोर ने अपने जनसंवाद में स्थानीय लोगो की आर्थिक तंगी पर ध्यान देते हुए सरकार के सामने कुछ मांगे रखी। किशोर का कहना है अगर कोई अपना घर-मकान बनाना चाहता हैं तो उसे आर्थिक मदद मिलनी चाहिए साथ ही प्रत्येक माह एक गेस सलेंडर निःशुल्क हो।

जिस तरह अन्य छेत्रो को राज्य व केंद्र सरकार ने आरक्षण की परिधि में लाया है उसी तरह टिहरी जनपद विकासखंड जाखणीधार और चंबा को भी सरकार आरक्षण परिधि में लाये। जिससे यहां का नौजवान अपना भविष्य संवार सकें।

टिहरी बांध का जिक्र करते हुए कहा कि हमारे लोगों ने अपना सर्वस्व दिया है लेकिन हनुमंतराव कमेटी की सिफारिश के अनुरूप टिहरी बांध से प्रभावित क्षेत्रों को जो फायदे मिलने थे वह सरकारों द्वारा नहीं दिए गए। उन्होंने कहा कि सरकार को टिहरी बांध के विस्थापित और प्रभावित क्षेत्रों को 300 यूनिट बिजली और पानी निशुल्क देना ही चाहिए।

Kishor Jansamvad

गाँव का नौजवान दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर – आकाश राणा

जिला कांग्रेस कमेटी टिहरी के *अध्यक्ष राकेश राणा * ने जनसंवाद में आये लोगो को सबोधन करते हुए कहा कि “आज बेरोजगार नौजवान दर-दर की ठोकरें खा रहा है वह आत्महत्या करने को मजबूर है। राज्य और केंद्र सरकार ने नौजवानों को छलने का काम किया है

राणा ने जनसंवाद मंच से, सरकार को महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना में बदलाव करने का सुझाव दिया। जिसमें 100 दिन के रोजगार की जगह 200 दिन किया जाना चाहिए और ₹210 दैनिक मजदूरी को ₹400 करना चाहिए।

साथ ही उत्तराखंड के परिवहन व्यवसाईयों के लिए एक ठोस रणनीति पर विचार कर उन्हें उचित मुआवजा दिया जाना चाहिए। पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार की भांति जो बेरोजगार नौजवान है उनको उनकी योग्यता के अनुसार बेरोजगारी भत्ता दिया जाए।

उपरोक्त कार्यक्रम में पूर्व प्रदेश सचिव पंकज रतूड़ी और ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष उत्तम सिंह नेगी ने बिजली पानी और सड़कों की खस्ता हालत को लेकर चिंता व्यक्त की और कहा कि अगर सरकार ने जल्द ही इस ओर ध्यान नहीं दिया तो क्षेत्र में बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *